भाभी भैया की पर्ल एनिवर्सरी पर विशेष     


Poems : Wishes21-Feb-2017


(भाभी भैया की पर्ल एनिवर्सरी पर विशेष)

मोती वाली सालगिरह पर,
मोती, मोतिन को घनी बधाई |
बढ़िया केक की सोच सोच कर,
मुंह में पानी आता भाई ||
वो दिन भी क्या दिन थे,
बरबस आ जाते हैं याद |
शामे अवध, शामे ग़ज़ल,
शामे गुफ्तगू, ख़याल आजाद |
यूँ तो ठीक है आजकल भी सब,
पर इसमें “यूँ” तो है न लगा |
व्हाट्सएप्प पर मिलती नहीं असली दावत,
अरमान बड़ी पार्टी का रहता है जगा||

Happy Pearl Anniversary

Sunil-Shikha
Lucknow

Tags: , ,

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

|