रक्षाबंधन 2015     


Poems : Festivals09-Aug-2015


इस राखी पर बहनों सुन लो,
एक छोटा भैया करे गुहार,
चाहे मुझे न देना मिठाई,
पर पेड़ लगाकर मनाना त्यौहार ||

– सुनील जी गर्ग

Tags: , ,

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of
|