गणतंत्र दिवस 2022

January 26, 2022

सब नियम कायदे बने हैं अच्छे दुनिया में उदाहरण पेश किया आज के दिन ही हम लोगों ने खुद को लिखकर आदेश दिया धर्म, जाति से उठेंगे ऊपर सबको बराबर मानेंगे जरूर सिंधु से समंदर एक हैं हम इसी बात का तो हमें गुरूर कुछ हवाएँ कोशिश तो करतीं पर चिराग़ हमने अखंड जलाया बात […]

हिंदी में मन मिलाते हैं हम

September 14, 2020

हिंदी को समर्पित एक कविता हिंदी ही समेटे है हिंदुस्तान इसी में मन मिलाते हैं हम मस्तिष्क की कुंजी है ये ही इसी में सोचकर भुलाते हैं गम हम थोड़ा कम पढ़ने लगे हों इसको पर दुनिया में इसको सीखने की चाह इतना साहित्य भरा पड़ा है इसमें और फिल्में इसमें तो बस भई वाह […]

मित्र दिवस 2020

August 2, 2020

फ्रेंड, कम्पैनियन या हो बडी मित्र, दोस्त, सहचर और मीत कामरेड, पाल, अलाइ या मेट स्नेही, साथी, सखा निभायें रीत मित्र दिवस की शुभकामनायें

पर्यावरण दिवस २०२०

June 5, 2020

पर्यावरण दिवस की शुभकामनायों के साथ प्रस्तुत हैं ये चंद पंक्तियाँ कह लो इसको प्रकृति या कह लो पर्यावरण पर ध्यान ज़रा सा रख लो बंधु रोक लो इसका शीघ्र क्षरण  जल, जंगल, ज़मीन का दोहन नहीं रोका तो तय है विनाश फिर बाद में यूँ कहते फिरोगे समय रहते कुछ किया होता काश अभी हाल की […]

माँ के लिए बच्चे की भावना

May 10, 2020

रोटी जैसी लगती माँ तू, सोंधी सोंधी नरम नरम सबर हुआ जो तुझको पाया तू समझाती, मिटे भरम माँ तू मेरा काठ खिलौना मिटटी वाले से मजबूत अपने बच्चों को भी दूंगा मुझसे न जाना कभी तू दूर तू ही गुल्लक है माँ मेरी लगता बड़ा अमीर हो गया एक और सिक्का तू भर देती […]

HIndi New Year 2020

March 25, 2020

विक्रम संवत बीस सतहत्तर, आज   हो   गया   प्रारम्भ शुभ दिन समझो शुरू हुए मन से भ्रम दूर करो अविलंब एक किस्म का ध्यान है ये भी रहना कुछ दिन घर के अंदर  कुछ कर्म मगर करते ही रहना जीवन न रुके ये चले निरंतर ऐसा है माहौल अजब सा ये सदियाँ याद करेंगी मगर इससे उबरने वालों को […]

वैलेंटाइन दिवस 2020

February 13, 2020

बहुतों ने इसे रोकना चाहा, पर बढ़ता रहा इसका प्रचार | दिलवाले देश में कम न थे, यूँ मनाते रहे जैसे त्यौहार || कोई घर में चुपचाप मनाता, कोई करता है इसकी नुमाईश | कोई बिना बोले रह जाता, कोई पूरी करता फ़रमाइश || इसी देश में खजुराहो और, इसी देश में घूंघट है | […]

गणतंत्र दिवस 2020

January 26, 2020

शुभ हो ये गणतंत्र दिवस, जन जन समझे संविधान | शंका मन में न रहे किसी के, मिल बैठ करेंगे समाधान || अब इसके मनावें सत्तर साल, आओ प्रण लें हम सब मिल कर | इसकी रक्षा सदा करेंगे, जाति धर्म से ऊपर उठ कर || गणतंत्र दिवस की शुभकामनायें

2020, फरक पड़ेगा उन्नीस बीस

January 1, 2020

उन्नीस से आया है बीस, फरक पड़ेगा उन्नीस बीस | ले भागा कोई बड़ा सा टुकड़ा, किसी को मिलता छोटा पीस || किस्मत के भी नियम निराले, प्यास जहां न, भरे हैं प्याले | आ सकता है काम किसी के, क्यूँ बंद तिजोरी, लगे हैं ताले || क्या इस साल कुछ बदलेगा, दाता कुछ उनको […]

नव वर्ष 2020

January 1, 2020

नव वर्ष नव आशा नव सन्देश नूतन है इच्छाएँ नूतन है उत्साह हाँ मंज़िलें वही पुरानी हैं पर इस बार पकड़ी है नई राह आपको अपनी मंज़िल तक पहुँचने के लिए नई राहें खुलें, इन्हीं शुभकामनाओं के साथ नया वर्ष मंगलमय हो। सुनील जी गर्ग

2020, बुध का शुरू भी करेगा मंगल

December 31, 2019

मंगल से शुरू था पिछला साल, बुध का शुरू भी करेगा मंगल | अगर करो तुम वादा खुद से, सेव करोगे जल और जंगल || और करो कुछ अच्छी बातें, वाणी से नहीं व्यवहार से | उनको भी सम्मान दिला दो, जो आया हो बाहर से || मगर काम भी लाना होगा, तभी तो संग […]

अभियंता दिवस 2019

September 15, 2019

काम करे आसान आपका यन्त्र बनाये ऐसे ऐसे सच्चा अभियंता तो वो है जुगत भिड़ाये जैसे तैसे कोई बनाये पुल और बिल्डिंग कोई बनाये कंप्यूटर कोई हवाई जहाज है उड़ाता सबके पीछे इंजीनियर नल नील से जुड़ जाता है अपना तो इतिहास सदी नयी हो या हो पुरानी हमने किया विकास सपने ज़्यादा हमने देखे […]

स्वतंत्रता दिवस 2019

August 15, 2019

खुश तो रोज़ ही रहते हैं मग़र , आज खुशी थोड़ी ज्यादा है | वतन की खातिर अब तो कुछ कर गुजरने का इरादा है || अब माहौल बदला है देश का , धनात्मक बातें करने लगे हैं लोग | आशा है काम पर भी पड़ेगा असर, तभी मिट पाएंगे देश के सब रोग || […]

दोस्ती दिवस 2019

August 4, 2019

यूं तो हर रिश्ते में होती है कुछ न कुछ दोस्ती, मगर बिना मतलब की होती है शुद्ध दोस्ती | आजकल हर रिश्ते का एक दिन होता है , मगर दोस्ती का तो यारों हर दिन होता है | फिर भी कुछ बातें रस्मों से बंध जाती हैं, दिनों को मनाने की लग जाती है […]

योग दिवस 2019

June 21, 2019

भारत की इस विद्या को अब माने दुनिया के लोग तन से मन से रहते खुश सब दूर भगाये रोग प्रकृति से जुड़ जाने का अद्भुत ये संयोग योग दिवस तो एक दिवस का रोज कीजिये योग योग दिवस की शुभकामनायें

हिंदी नववर्ष 2019

April 6, 2019

ये अपना प्यारा नया साल, बेहतर हो हम सब का हाल | अबके चुनाव का पड़ा है जाल, सही चुनें, इक वोट को डाल || छेती चंद, गुड़ी पड़वा मनावें, उगादी से मन को उठावें | विक्रम सम्वत भी गिन पावें, खुद खुश हों, औरो को बनावें – दुनिया में सबसे पहले से मनाये जाने […]

अभियंता दिवस 2018

September 15, 2018

विधियों, यंत्रों को बनाना और चलाना, नियंता ने हमको सौंपा है ये काम | अभियंत्रण, प्रबंधन करते हैं बेहतर, जनमानस के मन में, है अपना ऊंचा नाम || – अभियंता दिवस की सबको बधाई – सुनील जी गर्ग

स्वतंत्रता दिवस 2018

August 15, 2018

आधी रात मिली आज़ादी, फिर सुबह हुई हसीन | उचंग बढ़ी मन में सबके, सब खुशियों में तल्लीन || बंधन सारे टूट गए, चले गए फिरंगी | नयी सुबह तो हुई, मगर माहौल बड़ा अब भी जंगी || जंग बड़ी थी अब आगे, हर मुंह को निवाला देना था | रहने को छत देनी थी, […]

गणतंत्र दिवस 2018

January 26, 2018

शुभ हो सबको ये गणतंत्र, हों सब खुश, यही है मंत्र | भावनायों का हो सम्मान, तभी बढ़ेगा देश का मान | जाति, धर्म सब समझो एक, एक है ईश्वर, देश है एक | मेरे धर्म का नाम है भारत, बचपन से है इसकी आदत| राष्ट्रगान है प्रार्थना, देव मेरा तिरंगा, इसके तले ऐसा लगे, […]

नववर्ष 2018 (धन्यवाद कविता )

January 2, 2018

आपके नव वर्ष सन्देश का धन्यवाद, आपके लिए ये रचना समर्पित है || नव, नूतन, नवीन नया हो, हर क्षण जीवन रहे ताज़गी | बढ़े देश और बढ़ें ये रिश्ते, नए साल पर दिखी बानगी | करें नमन स्वीकार हमारा, होगा मिलना, होगी बात भी || सुनील जी गर्ग