पियक्कड़ों की टैक्सी


पियक्कड़ों ने दारू पीके एक टैक्सी रोकी और कहा- चल।
टैक्सी चालक ने गाड़ी शूरू की और फिर बंद कर दी
बोला- ये लो साब हम पहुँच गए
पहले ने उसे पैसे दे दिए
दूसरे ने बोला… धन्यवाद
तीसरे ने एक थप्पड़ दिया और बोला- आराम से चलाया कर …मरवा देता आज.


http://indyan.com/?p=375401-Dec-2021