गणेश चतुर्थी 2018     


Poems : Festivals13-Sep-2018


गज का आनन जिसका,
गणों के कहलाते पति |
जिनका मिलता है आशीष,
तो भ्रमित नहीं होती मति ||

गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएं

– सुनील जी गर्ग

Tags: ,

Leave a Reply

avatar
  Subscribe  
Notify of
|